योगी सरकार का फैसला : तैमूर का नाम बदल कर होगा तेनालीराम

जब से योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं तब से वो स्टेशन और शहरों के नाम बदल रहे हैं। मुगलसराय स्टेशन का नाम दीनदयाल उपाध्याय नगर और इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज करने के बाद अब चर्चा है कि योगी सरकार तैमूर का नाम बदल कर तेनालीराम करेगी।
सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री ने बताया कि हिंदुत्व ही इस देश की पहचान है और हम हर वो नाम बदल रहे हैं जो मुग़ल और मुस्लिम शासकों से जुड़ा है। इसी कड़ी में अगला नाम देश के लाडले और चहेते तैमूर का है। सरकार ने काफी सोच विचार के फैसला किया है कि तैमूर को उसका पुराना गौरव वापस दिलाया जाएगा।

कहा जा रहा है कि तैमूर का नाम तेनालीराम करने से तैमूर के श्रद्धालु और अधिक श्रद्धा से तैमूर को देखेंगे। तैमूर के निवास स्थान को तीर्थस्थान घोषित किया जाएगा और तैमूर के घर के आस पास घुमते पत्रकारों और लोगों को सब्सिडी दी जायेगी। तैमूर के जन्मदिवस पर सरकारी छुट्टी की घोषणा की जायेगी।

लेकिन योगी सरकार के इस फैसले पर राजनीति भी तेज हो गई। कांग्रेस ने कहा है कि काम करने के बजाये योगी सरकार नाम बदलने में लगी है। योगी सरकार को कुछ ऐसा करना चाहिए जिससे तैमूर का विकास हो। तैमूर की लम्बाई बढ़ाने के लिए एक वृहद् योजना बनाने के बजाये नाम बदल कर नौटंकी कर रही है। बहन मायावती ने योगी सरकार के इस फैसले की आलोचना करते हुए योगी को दलित विरोधी बताया। बहन जी ने कहा कि तैमूर का नाम तेनालीराम की बजाये भीमूर क्यों नहीं रखा गया ??

अमेरिका के हिन्दू ह्रदय सम्राट डोनाल्ड भाई ट्रम्प ने योगी सरकार के इस फैसले की तारीफ की और नारा लगाया “तेनालीराम हम आएंगे , मंदिर वहीँ बनाएंगे “

Leave a Reply

%d bloggers like this: